Publish Date: Aug 04, 2014 03:32:19

नई दिल्‍ली। नेपाल की दो दिवसीय यात्रा के अंतिम दिन सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काठमांडू स्थित पशुपतिनाथ मंदिर में करीब 50 मिनट तक पूजा की। सावन के आखिरी सोमवार को उन्‍होंने यहां पर भगवान शिव का जलाभिषेक किया। मोदी ने पशुपतिनाथ मंदिर ट्रस्ट को 2500 किलो चंदन दान में दिया है। पूजा के बाद मोदी ने नेपाल के राष्‍ट्रपति रामबरन यादव के अलावा कई पार्टियों के नेताओं और कारोबारियों से भी मुलाकात की। 108 ब्राह्मण छात्रों ने मंत्र पढ़ा मोदी जब मंदिर में पूजा कर रहे थे, तब 108 ब्राह्मण छात्रों ने मंत्र पढ़ा। उनके अभिवादन के लिए नेपाल का पारंपरिक नेवारी ड्रम धिमे और नेपाली बांसुरी भी बजाई गई। जब वह मंदिर से बाहर निकले तो उनके माथे पर चंदन और गले में रुद्राक्ष की माला थी। सुरक्षा के मद्देनजर मोदी जब पशुपतिनाथ मंदिर पहुंचे थे, तो पूरे परिसर को सील कर दिया गया था। मोदी ने तोड़ा प्रोटोकॉल, लगा हर-हर मोदी का नारा रविवार को मोदी प्रधानमंत्री कार्यालय में अपने नेपाली समकक्ष सुशील कोइराला से द्विपक्षीय बातचीत के बाद संविधान सभा जा रहे थे। रास्ते में मोदी ने अपना काफिला रुकवाया और लोगों से बात की। मोदी ने भीड़ की तरफ हाथ हिलाकर अभिवादन किया और कुछ लोगों से हाथ भी मिलाया। मोदी के इस कदम से उनके सुरक्षाकर्मी भी हैरान रह गए। सुरक्षाकर्मियों को लोगों को संभालने में मुश्किलों का सामना करना पड़ा। इस दौरान स्‍थानीय लोगों ने हर हर मोदी के नारे लगाए।